Tuesday, December 4, 2012

गीत:नया जख्म साथ लाता है ------


सच्चों को इसलिए मिलना चाहिए -
झूठे मिल जाएँ तो सच्चा 
टूट जाता है 
आखिर मज़बूत से मज़बूत लोहा 

भी कभी
टूट जाता है।


पुराने रिश्तों को 
निभाते जरूर रहिये 
हर चमकता नया दोस्त 
नए जख्म भी साथ लाता है।

अपने पुराने दोस्त को 
सीने से लगाकर रखना 
वर्ना आजकल कौन
मुफ्त में दुआएं 
दे-कर जाता है।

अजय मुश्किल है कि किसको
सच्चा कहें ,अपना कहें या पराया
पहचान है कि कौन नहीं
बदलता और कौन
बदल जाता है।
डॉ अजय गुप्ता

1 comment:

ktheLeo said...

वाह! सुन्दर है! वाह!